महा शिवरात्रि #

ॐ में ही आस्था, ॐ में ही विश्वास, ॐ में ही शक्ति, ॐ में ही सारा संसार, ॐ से होती है अच्छे दिन कि शुरुवात ॐ नमः शिवाय… महाशिवरात्रि की आप सभी को ह्रादिक शुभकामनायें । आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏 picture taken from google

दीपावली की शुभकामनायें # Quote

माँ लक्ष्मी आये आपके द्वार, लेकर सुख समृद्धि की बहार, करे दुखों का नाश , रौशनी के दिए घर में खुशहाली लाएं, मंगलकामनाओं के साथ आपको सपरिवार दिवाली की हार्दिक शुभकामनाएं 🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹 पूजा से भरी थाली है चारों और ख़ुशहाली है आओ मिलकर मनाये ये दिन आज दीपों का त्यौहार दिवाली है 🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹 दिवाली की…

रक्षाबंधन # कविता# जिंदगी की किताब (पन्ना # 380)

आ रहा है रक्षाबंधन का त्योहार रिश्तों में मिठास घोलने टूटे रिश्तों को जोड़ने !! भाई बहन का रिश्ता है मछली और सरोवर जैसा है जब तक जियेंगे साथ रहेंगे !! त्योहार नही है सिर्फ महज धागों को बॉधने का त्योहार है जुड़ने और जोड़ने का !! अगर आ गई है रिश्तो मे दरार हो…

# शीतला सप्तमी / शीतला अष्टमी # जिंदगी की किताब (पन्ना # 331)

राजस्थान और हरियाणा में शीतला सप्तमी / शीतलाष्टमी का त्यौहार मनाया जाता है । इस त्यौहार मे ठंडा खाया जाता है । खाने के एक दिन पहले काफी व्यंजन बनाये जाते है , दूसरे दिन बिना गर्म किये यानि ठंडा खाया जाता । इस अवसर पर शीतलामाता की पूजा की जाती है और पहले दिन…

होली # Quote

Happy holi to all आओ आज रिश्तो पर कुछ ऐसा रंग लगाएँ जिससे भीग जाये हर शब्द, पर अर्थ बहने न पाये रंगो की पिचकारी से खुशी की बौछार हो प्रेम के गुलाल से गाल लाल लाल हो मिठास वाली वाणी से दिल बाग बाग हो अहं के दहन से दुखो का नाश हो उदासी…

बसंत पंचमी # Quote

आप सभी को बसंत पंचमी की ह्रादिक शुभकामनायें आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

हैपी जन्माष्टमी – सुंदर पैग़ाम के साथ -जिंदगी की किताब (पन्ना # 239)

​​ जन्माष्टमी का पर्व आया, तन मन को महकाया !! एक वर्ष से आये हो तुम ,हर्षोल्लास को लाये हो !! हर्ष , खुशी है सबके मन मे ,आओ पधारो मेरे मन मन्दिर !! खुशी से पर्व मनाते हुये , करे कन्हैया के गुणों का बखान अपनाये उनके गुणों की खान , हो जाये इस…

जिंदगी की किताब (पन्ना # 217)  रक्षाबंधन का त्योहार 

आया रक्षाबंधन का त्योहार रिश्तों में मिठास घोलने  टूटे रिश्तों को जोड़ने  भाई बहन का रिश्ता है  मछली और सरोवर जैसा है जब तक जियेंगे साथ रहेंगे त्योहार नही है सिर्फ  महज धागों को बॉधने का  त्योहार है जुड़ने और जोड़ने का  अगर आ गई है रिश्तो मे दरार हो गई हो कोई भी बोलचाल…