अच्छे विचार # सकारात्मक सोच # जागृति #Quote #

किसी एक इंसान की मदद करने से दुनिया तो बदलने वाली नही पर जिस इंसान की मदद करोगे उसकी दुनिया जरूर बदल सकती है आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदान🙏🙏 Advertisements

सफलता # सकारात्मक बात # Quote #

दूध उपयोगी है किंतु एक ही दिन के लिए,फिर वो ख़राब हो जाता है दूध में एक बूँद छाछ डालने से वह दही बन जाता है जो केवल दो दिन और टिकता है दही का मंथन करने पर मक्खन बन जाता है और यह और तीन दिन तक टिकता है मक्खन को उबाल कर घी…

जिन्दगी # सकारात्मक सोच # Quote #

ईश्वर टूटी हुई चीजों का इस्तेमाल खूबसूरती से करता है जैसे बादल टूटने पर पानी की फुहार आती है, और बीज टूटने पर एक नये पौधे की संरचना होती है इसलिये जब आप खुद को टूटा हुआ महसूस करो तो समझ लीजिये ईश्वर आपका इस्तेमाल किसी बड़ी उपयोगिता के लिये करना चाहता है हमेशा मुस्कुराते…

दोस्त # सकारात्मक विचार # Quote#

दोस्त शब्द का मतलब बडा ही मस्त होता है हमारे दोष को जो अस्त कर दें वहीं दोस्त होता है Image credit google आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

सकारात्मक विचार # Quote

कोशिश आखिर तक कीजिये या तो मंज़िल मिलेगी या तजुर्बा जो दोनों ही बड़े नायाब है । आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏 Image credit google

परिवार व रिश्ते # सकारात्मक सोच # Quote #

कामयाबी कभी बड़ी नहीं होती पाने वाले हमेशा बड़े होते है दरार कभी बड़ी नहीं होती भरने वाले हमेशा बड़े होते है सम्बध कभी बड़े नहीं होते निभाने वाले हमेशा बड़े होते है …. आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

सुविचार # सकारात्मक विचार # Quote #

कोई अगर आपके अच्छे कार्य पर संदेह करता है तो करने देना क्योंकि शक सदा सोने की शुद्धता पर किया जाता है कोयले की कालिख पर नहीं आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

परिवार व रिश्ते # सकारात्मक बात # Quote #

ज़िंदगी की आधी शिकायतें ऐसे ही ठीक हो जाए अगर लोग एक दूसरे के बारे में बोलने की जगह एक दूसरे से बोलना सीख जाए । आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

जिन्दगी # सकारात्मक विचार # Quote #

सच्चाई और अच्छाई की तलाश में, चाहे पूरी दुनिया घूम लो, अगर वह ‘खुद’ में नहीं तो कहीं भी नहीं आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

नारी # सकारात्मक बात # Quote #

नारी और नदी एक सी होती है बहती है पुरे ह्रदय प्राण से समेटती है सबको अपने आँचल में जो भी निकट आता सबको जोड़ कर रखती सींचती अपने जल से बढ़ती जाती अपनी मन्ज़िल को लहराती हुई मुस्कराती हुई आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏 Image credit google