परिश्रम व संघर्ष # प्रोत्साहित करने वाली कहानी # जिंदगी की किताब (पन्ना # 423)

परिश्रम व संघर्ष …. प्रोत्साहित करने वाली कहानी एक बार एक आदमी को अपने बग़ीचे में टहलते हुए किसी टहनी से लटकता हुआ एक तितली का कोकून दिखाई पड़ा ।अब हर रोज़ वो आदमी उसे देखने लगा , और एक दिन उसने ध्यान किया कि उस कोकून में एक छोटा सा छेद बन गया है…

बुढ़े दम्पति # प्रोत्साहित करने वाली कहानी #

पढ़िये प्यारी सी मज़ेदार नोकझोक बूढ़े बुढ़िया के बीच … इन 70-80 साल के अंकल-आंटी का झगड़ा कभी ख़त्म ही नहीं होता….. एक बार के लिए मैंने सोचा अंकल और आंटी से बात करूँ क्यों लड़ते हैं हर वक़्त, आख़िर बात क्या है…..? . फिर सोचा मुझे क्या ? मैं तो यहाँ दो दिन के…