गुरू कृपा # Quote

Guru kripa ka arth Yeh nahi hai ki Zindagi mein Kabhi dukh hi na aaye Balki yeh hai ki Dukh aane par bhi Dukhi huye bina Vah samay kaise beet jaaye ,Malum hi na chale . गुरु कृपा का अर्थ यह नही है कि जिन्दगी मे कभी दुख ही ना आये बल्कि यह है कि…

बसंत पंचमी # Quote

आप सभी को बसंत पंचमी की ह्रादिक शुभकामनायें आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

यही है जिन्दगी # जिंदगी की किताब (पन्ना # 307)

जिन्दगी का जीवन चक्र …… संसार एक बगिया है हम सभी उसके फूल है । एक डाल पर एक फूल खिला देखकर राही का मन मचल गया ठिठक कर देखा इधर उधर तोड़ा और कोट मे लगा दिया शाम हुई फूल मुरझा गया उठाया और कचरे मे फेंक दिया । बालक का भी जन्म हुआ…

इंसान # सुविचार # लफ्ज

1. मन्दिर मस्जिद तीर्थ जाये या गुरूद्वारा चर्च पत्थर से करता प्यार मगर इंसान रहा ठुकराय !! 2. तीर्थ मंदिर ,ग्रंथों मे ढूँढे पत्थर पर शीश झुकाय ख़ुद मे खुदा बसा पहचान न ख़ुद को पाय !! 3. कोटि धर्म व तीर्थ करो चाहे कर लो जतन हजार आत्म स्वरूप जाने बिना, सब धर्म कर्म…

आत्मशक्ति # जिंदगी की किताब (पन्ना # 392)

आत्म शक्ति …. यह शरीर आत्मा के सहारे ही टिका है ।शरीर मे जो कुछ भी होता है वह वह सब कुछ आत्मा की शक्ति के बदौलत होता है । ये सब कुछ चर्म चक्षुओ से नही बल्कि अपने भीतर गहराई से उतरने पर महसूस होगा । आत्मा तो अनंत शक्ति वाला है पर इस…

स्वास्तिक चिन्ह # जिंदगी की किताब (पन्ना # 387)

विश्व भर मे स्वास्तिक चिन्ह विभिन्न धर्म व मान्यताओं मे सौभाग्यशाली , शुभ , मंगलकारी व कल्याण करने वाला माना जाता है । यह विभिन्न बाधाओ को दूर करता है। हर रोज इस चिन्ह का कम से कम एक बार जरूर दर्शन करना चाहिये । अलग अलग धर्म के अनुसार अलग अलग मान्यताये होती है…

आध्यात्मिक ज्ञान ( spiritual science) व भौतिक जगत पर एक नजर # जिंदगी की किताब (पन्ना # 374)

आध्यात्मिक ज्ञान ( spiritual science) व भौतिक जगत पर एक नजर …. आज का युग भौतिकवादी है । भौतिकता की तुलना मे आध्यात्मिकता ( spirituality) के प्रति जागरूकता बहुत ही कम है । क्योंकि लोगों मे अभी इसके प्रति पूरी तरह से श्रद्धा नहीं बैठी है , दृढ़ विश्वास नहीं है । होगी भी तो…

धर्म …. जिंदगी की किताब (पन्ना # 360)

इस सृष्टि के लिये सबसे बडा वरदान है तो वह धर्म है ,जो मानवता का जलता हुआ चिराग है । लेकिन धर्म का मर्म इंसान की समझ से दूर होता जा रहा है । धर्म के नाम पर आये दिन कुछ ना कुछ बखेड़ा खड़ा हो जाता है । धर्मों की गिनती करे तो पायेंगे…

लफ्ज # धार्मिकता # जागरूकता

1.भगवान को खोजने वाले को भगवान दर्शन नहीं देते परंतु भगवान में खो जाने वाले को भगवान दर्शन जरूर देते हैं । 2. व्यापार मे धर्म करो धर्म मे व्यापार नही । 3. धर्म करने के लिये शहर, गॉव या जंगल ,कही पर भी जाने की जरूरत नही है क्योकि वस्तुत: धर्म न गॉव मे…