जिन्दगी # जागृति # प्रेरणादायी # रिश्ते # Quotes #

अगले क्षण क्या होना है , ये किसने जाना है फूल को भी पता नही ,उसे मंदिर जाना है या श्मशान इसलिये जितना जीवन जीओ, हँसखुश के मस्ती से जीओ रिश्ता जताया नहीं निभाया जाता है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

जिन्दगी # रिश्ते # जागृति # प्रेरणादायी # Quotes #

इंसान पैसो से ,वचन देने मे जितना अमीर होता जा रहा है उतना ही दिल से और वचन पालने मे गरीब होता जा रहा है लोगों के तब फर्क पड़ना शुरू होता है जब आपको किसी बात से कोई फर्क नहीं पड़ता है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

आज का सुविचार # परिवार और रिश्ते #जागृति # प्रेरणादायी # Quotes #

जिन्दगी जीनी है तो इस तरह जियो जिस तरह दीपक में जलती है लौ जिस तरह आसमान में चमकता है सूरज जिस तरह फूलों में बसती है महक जिस धरती पर बरसती है घटा जिस तरह सागर में उठती है लहर जिस तरह रातों को चमकते हैं जुगनू तुम रहो या ना रहो , हस्ती…

किसी ने क्या खूब कहा # जागृति # प्रेरणादायी # Quotes #

एक गलत आदत आदमी को अंधा कर देती है एक बुराई व्यक्ति के तेज को मंदा कर देती है कितना बडा सत्य है इस बात मे दोस्तो एक मछली सारे तालाब को गंदा कर देती है कुछ गैर ऐसे मिले जो मुझे अपना बना गए.. कुछ अपने ऐसे निकले जो गैर का मतलब बता गए……

परिवार और रिश्ते # जागृति # Quotes #

आज मैने परछाईं से पूछ ही लिया क्यो चलती हो …हमेशा साथ उसने भी दिया हँसकर जवाब और कौन है …तेरे साथ ? आप किसी को इतना भी “भाव” ना दो कि वो आपको “रद्दी के भाव” समझने लगे आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानन्द 🙏🙏

आज का सुविचार # जागृति # प्रेरणादायी # Quotes #

ज्ञान मुझ मे अल्प है , यह ध्यान मे मत लाइये हारिये मन मे नही , सदव्यवहार करते जाइये चंद्र सूर्य दोनो अमावस्या मे , दिख पड़ते नही उस समय मे दीप अपना , काम क्या करता नही ज्ञान तीन प्रकार से मिलता है किताबों से – यह सबसे सरल है अनुभव से – यह…

सुविचार # जागृति # प्रेरणादायी-# Quotes #

अंदर से टूटा हुआ इंसान या तो चुप्पी साध लेता है या जरूरत से ज्यादा खुश होने का दिखावा करता है जो हाथ का सच्चा और बात का पक्का, समझो वह इंसान सबसे अच्छा आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

अनमोल बाते # जागृति # प्रेरणादायी # जिन्दगी # Quotes #

पैसा कहता मुझे जमा कर कैलेंडर कहता है मुझे पलट समय कहता हैं मुझे प्लान कर भविष्य कहता हैं मुझे जीत सुंदरता कहती हैं मुझे निहार पर ईश्वर कहता हैं करना है तो मुझ पर विश्वास के साथ बिना कर्मफल की इच्छा किये कर्म किये जा पायल हजारो रूपयों की आती है फिर भी पाँवों…