Quote # 377

बहुत खुशनसीब है वो पत्नी जिसका पति उसके सपने को साकार करने मे प्रोत्साहित करने के साथ उसकी मदद भी करता है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏 picture taken from google Advertisements

असली खूबसूरती # जिंदगी की किताब (पन्ना # 376)

असली खूबसूरती …. आरती ने अपने बेटे रौनक की सगाई बुझे मन से काजल के साथ तय कर दी । एक सप्ताह बाद सगाई की रस्म रखी गई जिसमे काफी रिश्तेदारों को बुलाया गया । होने वाली वधू काजल व रौनक ने एक साथ पार्टी हॉल मे प्रवेश किया । दोनो और के सारे रिश्तेदारों…

Quote # 275

दर्पण कभी झूठ नही बोलता प्रेम कभी ईर्ष्या नही करने देता आध्यात्मिक ज्ञान आकुल नही होने देता सत्य कभी कमजोर नही होने देता विश्वास दुखी नही होने देता कर्म कभी असफल नही होने देता आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote# 273

नानी के घर जाना है ,सुनकर मन हर्षित हो जाता है नानी जैसा प्यार दुलार ,कहॉ और मिल पाता है सबकी डांट से भी बचाती,करने देती है मनमानी नई नई कहानियॉ सुनाती,अच्छे-अच्छे पकवान खिलाती अच्छी बाते सिखलाती,साथ मे कोई बड़ी सीख दे जाती गलतियों को सुधार कर ,वह हमे बेहतर बनाती माँ तो प्यारी है…

Quote # 272

मेरी भावना …. अहंकार का भाव न रक्खूँ ,नही किसी पर क्रोध करूँ देख दूसरो की बढ़ती को , कभी न ईर्ष्या भाव धरूँ रहे भावना ऐसी मेरी , सरल सत्य व्यवहार करूँ बने जहॉ तक इस जीवन मे,औरों का उपकार करूँ आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote # 271

क्यों डरे जिंदगी में क्या होगा हर वक्त क्यों सोचें कि बुरा होगा बढ़ते रहे मंजिलों की ओर , ज़िंदगी में कुछ भी ना मिला तो क्या, हर बार तजुर्बा तो नया होगा आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote # 270

मित्रता यानि बिना कुंडली मिलाए आजीवन रहने वाला संबंध आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

रिश्ते # जिंदगी की किताब (पन्ना # 375)

🌸रिश्ते टूटने का एक कारण दिखावा व competition भी है जिससे रिश्तो की स्वाभाविकता खत्म हो जाती है 🌸रिश्ते टूटने का सबसे बडा कारण आपसी अनबन, झूठा अहंकार है जिसकी क्रोधाग्नि मे आपसी रिश्ते भस्मीभूत हो जाते है 🌸रिश्तो से ज्यादा उम्मीदें व नासमझी व बातचीत बंद कर देने से दूरियाँ इतनी बढ़ जाती है…

Quote # 267

बोलती है तो लगती दादी मॉ डांटती है जैसे मेरी हो मॉ कभी रूठना ,कभी मनाना कभी आंसू बहाना तो कभी मंद मंद मुस्कुराना लेकिन दिल की है बड़ी नेक सच कहूँ तो मेरी दीदी है लाखों में एक आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote # 266

किन साँसों पर एतबार करूँ जो अंत में मेरा साथ छोड जायेगी किस धन का अंहकार करूँ जो अंत में मेरे प्राणों को बचा नहीं पायेगी किस तन पर अंहकार करूँ जो अंत में मेरी आत्मा का बोझ भी नहीं उठा पाएगा डरना है तो ईश्वर से डर जिसकी अदालत में वकालत नहीं होती और…

Quote # 264

विचार अच्छे है तो मन ही मंदिर है आचार अच्छा है तो तन ही मंदिर है व्यवहार अच्छा है तो धन ही मंदिर है तीनों ही अच्छे है तो अपना जीवन मंदिर से कम नही आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote # 262

बेटी होना आसान ही नही बल्कि बडे जिगर की बात है जो दूसरे घर जाकर अपने दिल की कितनी ख़्वाहिशें दफन कर देती है न तो वह ससुराल वालो को बता पाती है ना ही मॉ बाप को आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏