बचपन की यादे # वक्त # Quotes

सुकून के मामले मे वो ज़माना कितना सस्ता था जब होंठों पर मुस्कान और कंधों पर बस्ता होता था । आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏 क्षणों को संभालने वाला वर्षों को संभाल सकता है और क्षणों को खोने वाला वर्षों को खो देता है । आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏