अन्तराय कर्म – जिंदगी की किताब (पन्ना # 330)

अंतराय ( विघ्न या रुकावट ) कर्म ….. यदि आप कर्म के सिद्धांत व पूर्व जन्म के कर्मों का भुगतान मे विश्वास करते है तो आपको समझ आ जायेगा कि अंतराय कर्म क्या है । रोज़मर्रा की जिन्दगी मे हमे कभी आभास नही हो पाता है कि हम कोई अंतराय कर्म का भी बंध कर…