जिन्दगी क्या है # जिंदगी की किताब (पन्ना # 394)

जिंदगी क्या है ? कवियत्री मुक्ता सिंह जी की कविता दिल को छू गई । उन्होने बहुत ही खूबसूरती से कुछ पंक्तियाँ मे जिंदगी क्या है , बख़ूबी दर्शाया है ….. कभी-कभी मन में उठता है ये सवाल, जिंदगी क्या है ? क्या ये ईश्वर का दिया अनमोल तोहफा है, या है उलझनों से भरा…

Quote #

कभी नमक सी जिंदगी कभी नीम सी जिन्दगी मै ढूँढता रहा जिन्दगी भर शहद सी जिन्दगी ना शौक़ बडा दिखने का ना तमन्ना भगवान बनने की बस एक आरजू जन्म सफल हो कोशिश इंसानियत रखने की आपकीआभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote #

आज इन सभी व्यक्ति की समाज को अत्यन्त आवश्यकता है … आवश्यकता है …. ऐसे इलेक्ट्रिशियन की जो ऐसे दो व्यक्तियों के बीच कनेक्शन कर सके जिनकी आपस में बातचीत बन्द है ऐसे ऑप्टिशियन की जो लोगों की नजर के साथ नजरिया में भी सुधार कर सके। ऐसे चित्रकार की जो हर व्यक्ति के चेहरे…

Quote #

संबंधो मे मधुरता के लिये ऑंखो देखी बात पर यकीन करना ना कि सुनी सुनाई बात पर क्योकि कहने वाला जिस संदर्भ मे कहता है उसका अर्थ आप तक पहुँचते पहुँचते बदल जाता है । झुकने से रिश्ता गहरा हो तो झुक जाओ पर हर बार आपको ही झुकना पड़े तो रूक जाओ आपकी आभारी…

Quote #

कभी भी भूलकर किसी रिश्ते का मजाक ना उड़ाये, जिसे उड़ाने मे तो क्षणभर लगता है पर बनाने मे सारी उम्र लग जाती है आपका जीवन सुंदर , प्रसन्नतापूर्वक ,भाग्यशाली ,तनावरहित , मंगलमय हो रिश्तो को शब्दो का मोहताज ना बनाइये अगर अपना कोई ख़ामोश है तो खुद ही आवाज लगाइये कैसे खिलेंगे रिश्तो के…

Quote #

ईश्वर न दंड देते है,न माफ करते है कर्मफल का तराजू इन्साफ करता है सुख दुःख का बटन हमारे हाथ में है जो हम खुद ही On करते है और खुद ही Off करते है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote #

गुण दिखे तो मन को कैमरा और अवगुण दिखे तो मन को आईना बना लीजिये आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏 picture taken from google

Quote #

कभी निराश ना हो जीवन मे , कभी ना दुख मे घबराना एक यही साधन है सुख का , अपना कर्तव्य किये जाना आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote #

बडी बडी बाते करने वाले बातों मे ही रह जाते है वही हल्के से मुस्कुराने वाले भी बहुत कुछ कह जाते है आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

एक तमाचा दहेज लोभियो को # जिंदगी की किताब (पन्ना # 387)

एक तमाचा दहेज लोभियो को …. बहू घर के काम निपटाने के बाद मे मेरे सिर व पैरों पर मालिश कर दिया करो । मॉजी मुझसे इतना सब नहीं हो पायेगा,सारा दिन काम करते करते बहुत थक जाती हूँ । शर्म नहीं आती तुम्हें इस तरह का जवाब देते हुये । क्या यही संस्कार दिये…

Quote #

जिंदगी में ऐसे लोग जो वादे तो नहीं करते लेकिन निभा बहुत कुछ जाते है अक्सर वही रिश्ते लाजवाब होते हैं जो एहसानों से नहीं एहसासों से बने होते हैं आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote #

अपने अंदर ख़ुशी ढूँढना आसान नहीं पर सच्चाई इस बात मे भी है कि इसे और कही ढूँढना भी तो संभव नहीं आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏