स्री # Quote #

स्त्री वह माली है जो स्वयं दुख देखकर भी अपने परिवार रूपी बगीचों को खुशहाल और सुगंधित बनाने का प्रयत्न करती है । आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏 Advertisements