दिल को छूने वाला वाक्या # (जिंदगी की किताब (पन्ना # 388)

दो गिद्ध…..कुछ वाक्या ऐसे होते है जो पढ़ते ही दिल को छू जाते है , ऐसा ही एक वाक्या जो पढ़ते ही दिल को छू गया … यह तस्वीर याद है आपको? इसे नाम दिया गया था”The vulture and the little girl “। इस तस्वीर में एक गिद्ध भूख से मर रही एक छोटी लड़की…

Quote #

सच बोलिए ,सच बोलने से आज भले ही खतरा हो, पर सत्य एक दिन आपके सम्मान और विश्वास को पहले से सौ गुना अधिक मजबूती से लौटा लाएगा आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote #

कडवा सच अमीर के घर पर बैठा कौवा भी सबको कोयल लगता है गरीब का भूखा बच्चा भी सबको चोर लगता है कितना अजीब है यारों इंसान की अच्छाई पर सभी खामोशी ओढ़ लेते है चर्चा अगर निंदा पर हो तो गूँगे भी बोल पड़ते है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote #

कौन क्या कर रहा है ,कैसे कर रहा है क्यो कर रहा है , इन सबसे जितना ज्यादा दूर रहेंगे , उतना ही अपने आप को खुश रख पायेंगे आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

रिश्तो का ना करो बँटवारा …

बँटवारे की कहानी …. श्री शर्मा के संयुक्त परिवार की तारीफ मोहल्ले भर मे की जाती थी । चार बेटों का भरापूरा परिवार था । सभी आपस मे प्रेम से रहते थे । एकाएक शर्माजी की असामयिक मृत्यु से पूरा परिवार हिल गया । धीरे धीरे समय का कुचक्र ऐसा चला कि भाइयों की आपस…

Quote #

कभी किसी के ज़ज्बातो का मजाक ना बनाना ना जाने कौन सा दर्द लेकर कोई जी रहा है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote #

स्त्री यानी “अगरबत्ती” जिसमें आग भी है, धीरज भी है सहनशीलता भी है स्वयं को धीरे धीरे जलाकर अपने परिवार को सुगंधित करने की ताकत भी है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏 picture taken from google

Quote #

कोहरे से एक बहुत अच्छी सीख मिलती है कि जिंदगी में जब कोई रास्ता नजर ना आ रहा हो तो बहुत दूर तक देखने की कोशिश करने की बजाय एक एक कदम चलते चलो ,रास्ता स्वयं खुलता जाएगा आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote

जो रिश्ते सच मे गहरे होते है वो अपनेपन का कभी भी ढिंढोरा नही पीटते आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏 picture taken from google

Quote

जिस व्यक्ति को आपके रिश्तों की कदर नहीं है उसके साथ खड़े रहने से अच्छा है आप अकेले खड़े रहें यह अभिमान नहीं है, स्वाभिमान है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote # 401

महाभारत की शुरुआत तब होती है जब बिना हक का लेने का मन होता है लेकिन जब अपने हक का भी छोड़ देने का मन होता है तब रामायण की शुरुआत हो जाती है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

लोभ # जिंदगी की किताब (पन्ना # 384)

🌸भूमिका के हिसाब से लोभ लालच सब मे होता है फर्क इतना है कि किसी मे ज्यादा होता है तो किसी मे कम होता है 🌸लेकिन लोभ करने का आधार सही होना चाहिये ।यदि कोई इंसान धन ,पैसे , गोरख धंधे की चाह मे लोभ करता है तो वह अशान्ति देता व इसके लिये पाप…