परिवार व रिश्ते # आज की सच्चाई # Quote #

कुछ लोग आपसे सिर्फ उतना ही प्यार करते है जितना वो आपको इस्तेमाल कर सकते है जहॉ उनका मतलब खत्म , वहॉ उनका प्यार भी खत्म आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏 Advertisements

सच बात # जागृति # प्रोत्साहन # Quote #

एक समृद्ध परिवार की महिला साड़ी की दुकान पर जाकर कहती है … भैया कम से कम दाम वाली हल्की साड़ी दिखाना ,बेटी की शादी है ,कामवाली को भेंट देनी है , कुछ कुछ देर बाद उसी दुकान पर कामवाली बाई आती है और कहती है भैया महँगी वाली साड़ी दिखाना ,मालकिन के बेटे की…

सच्ची बाते # जिन्दगी # Quote #

जिदंगी हमे जिदां रखती है दर्द तो सिर्फ हमने पाल रखे है लहरे कभी क्यो रूकती नही और तूफान है कि थमता नही झूठ और फरेब से है दिल्लगी सच के साथ कोई चलता नही कोई साथ चले न चले पर सच सदैव सच ही होता है। आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

अच्छी बाते # सच # जागृति # Quote

हमेशा सच बोलिये झूठ को तो याद रखना पडता है मगर सच को ज्यादा कुछ याद रखने की जरूरत नही पड़ती है । झूठ बोलने वाले इंसान से भरोसा तो उठता ही है साथ मे उसकी कीमत भी खत्म हो जाती है । आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

सुविचार # रिश्ते # Quote

आज 2 जून है , सबको ह्रदय से “दो जून की रोटी “ मुबारक हो, सबको नाज़ुक ,नरम नरम घी से चुपड़ी दो जून की रोटी हमेंशा मिलती रहे …🌹🌹 दोनों तरफ़ से निभाया जाये वही रिश्ता कामयाब होता है जनाब एक तरफ़ से सेंक कर तो रोटी भी नहीं बनती आपकी आभारी विमला विल्सन…

जिन्दगी # सच्ची बात # Quote

सच्चाई की जंग मे झूठे भी जीत जाते है सही वक्त ना हो तो अपने भी बिक जाते है आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

इंसान # दिल # Quote

दुनिया का सबसे पवित्र शक्तिशाली स्थान इंसान का साफ़ दिल है आपकी आभारी विमला दीदी जय सच्चिदानंद 🙏🙏

जिन्दगी# सच बात # Quote

किसी की तन की या मन की पीड़ा का अनुभव उससे गुज़रने वालों के अलावा कोई भी महसूस नही कर सकता आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote #सुविचार

प्रेम और परोपकार सिखाता है बॉटकर खाना भूख और बेइमानी सिखाती है लूटकर खाना लोभ और फिजूलखर्ची सिखाती है बेईमान बनना संस्कार और स्वाभिमान सिखाता है कमाकर खाना आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

जागृति # Quote #

किराये की काया में बसेरा है मेरा रोज़ श्वासों को बेच कर कीमत चुकाता हूँ असल मे औकात है बस मिट्टी जितनी फिर भी बातें मैं महलों की कर जाता हूँ जल जायेगी एक दिन काया मेरी फिर भी इसकी खूबसूरती पर इतराता हूँ मुझे पता हे मैं खुद के सहारे श्मशान तक भी ना…

रिश्ते नाते # जागृति # Quotes

रिश्तो को गलतियॉ इतना कमजोर नही करती .. जितना ग़लतफ़हमियॉ कर देती है … इंसान की पहचान शक्ल नही बल्कि अक्ल है शीशे की तरह आर – पार हूँ फिर भी बहुतों की समझ से बाहर हूँ इंसान जो चाहता वो पाता नही जो पाता है उसे भाता नही इसलिये उसके जीवन मे सुख साता…

कड़वी बात # Quote #

कडवा सच भोजन न पचने पर रोग बढते है पैसा न पचने पर दिखावा बढता है बात न पचने पर चुगली बढती है प्रशंसा न पचने पर अंहकार बढता है निंदा न पचने पर दुश्मनी बढती है दुःख न पचने पर निराशा बढती है और सुख न पचने पर पाप बढता है इसलिये जीवन से…