Quote #

मान सम्मान की लड़ाई मे आत्मसम्मान बनाये रखना ,चाहे अकेले भी पड़ जाओ पर किसी के सामने स्वयं को कभी भी टूटने ना देना क्योकि खुद का सम्मान करोगे तभी दूसरो से मान पाओगे आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏 Advertisements

Quote #

कडवा सच अमीर के घर पर बैठा कौवा भी सबको कोयल लगता है गरीब का भूखा बच्चा भी सबको चोर लगता है कितना अजीब है यारों इंसान की अच्छाई पर सभी खामोशी ओढ़ लेते है चर्चा अगर निंदा पर हो तो गूँगे भी बोल पड़ते है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote #

रिश्तो मे दूरियाँ ना बढ़ने दे वरना ग़लतफ़हमियॉ इस कदर बढ़ जाती है कि सामने वाले को वह भी सुनाई देता है जो हम कहते भी नही है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote #

अनुमान गलत हो सकता हे पर अनुभव नही क्योंकि अनुमान हमारे मन की कल्पना है और अनुभव हमारे जीवन का तुर्जबा है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

रिश्तो का ना करो बँटवारा …

बँटवारे की कहानी …. श्री शर्मा के संयुक्त परिवार की तारीफ मोहल्ले भर मे की जाती थी । चार बेटों का भरापूरा परिवार था । सभी आपस मे प्रेम से रहते थे । एकाएक शर्माजी की असामयिक मृत्यु से पूरा परिवार हिल गया । धीरे धीरे समय का कुचक्र ऐसा चला कि भाइयों की आपस…

Quote #

जो लोग आपके पद,प्रतिष्ठा और पैसे से जुड़े हैं, वो केवल सुख में ही आपके साथ खड़े रहेंगे और जो लोग आपकी वाणी, विचार और व्यवहार से जुड़े हैं, वो संकट में भी आपके लिये खड़े रहेंगे आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

बँटवारे की कहानी # जिंदगी की किताब (पन्ना # 387)

बँटवारे की कहानी …. श्री शर्मा के संयुक्त परिवार की तारीफ मोहल्ले भर मे की जाती थी । चार बेटों का भरापूरा परिवार था । सभी आपस मे प्रेम से रहते थे । एकाएक शर्माजी की असामयिक मृत्यु से पूरा परिवार हिल गया । धीरे धीरे समय का कुचक्र ऐसा चला कि भाइयों की आपस…

Quote

जो रिश्ते सच मे गहरे होते है वो अपनेपन का कभी भी ढिंढोरा नही पीटते आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏 picture taken from google

Quote #

कुछ कह गए, कुछ सह गए कुछ कहते कहते रह गए मैं सही ,तुम गलत के खेल में न जाने कितने रिश्ते ढह गए आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote

जिस व्यक्ति को आपके रिश्तों की कदर नहीं है उसके साथ खड़े रहने से अच्छा है आप अकेले खड़े रहें यह अभिमान नहीं है, स्वाभिमान है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote # 403

जिस घर मे बडे नरम छोटे नरम उस घर मे है शुभ कर्म जिस घर मे बडे नरम छोटे गरम उस घर मे है बेशर्म जिस घर मे बडे गरम छोटे नरम उस घर मे है शर्म जिस घर मे बडे गरम छोटे गरम उस घर मे फूटे कर्म आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद…

Quote # 399

सॉझ सूरज को ढलना सिखाती है शमा परवाने को जलना सिखाती है ठोकर खाने पर दर्द होता जरूर पर वही इंसान को चलना सिखाती है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏