Quote #

अच्छे संदेश सबको दो,लेकिन ज्ञान की बात उन्हे सुनाओ जो सुनने का आनंद लेते है क्योकि अमूल्य हीरा पहचानना हर किसी के बस मे नही होता है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏 Advertisements

Quote #

कभी भी इस बात की गिनती ना करना कि कितने शास्त्र पढ़े , कितने तीर्थ गये , कितने मंदिर गये बल्कि ये सोचना कि तीर्थों की यात्रा मे कितने गहरे उतरे , अपने भीतर बैठे परमात्मा को कितना पहचाना । जीवन मे कितनी प्रसन्नता आई । आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote # 394

माखन चोर नंद किशोर बॉधी जिसने प्रीत की डोर मथुरा की खुशबू,गोकुल का हार वृंदावन की सुगंध,बृज का फुहार राधा की उम्मीद और कन्हैया का प्यार मुबारक हो आप सबको जन्माष्टमी का त्योहार आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏 picture taken from google

जिंदगी की किताब (पन्ना # 383)

जन्माष्टमी का पर्व आया, तन मन को महकाया !! एक वर्ष से आये हो तुम ,हर्षोल्लास को लाये हो !! हर्ष , खुशी है सबके मन मे ,आओ पधारो मेरे मन मन्दिर !! खुशी से पर्व मनाते हुये , करे कन्हैया के गुणों का बखान अपनाये उनके गुणों की खान , हो जाये इस भवसागर…

Quote # 266

किन साँसों पर एतबार करूँ जो अंत में मेरा साथ छोड जायेगी किस धन का अंहकार करूँ जो अंत में मेरे प्राणों को बचा नहीं पायेगी किस तन पर अंहकार करूँ जो अंत में मेरी आत्मा का बोझ भी नहीं उठा पाएगा डरना है तो ईश्वर से डर जिसकी अदालत में वकालत नहीं होती और…

Quote # 265

प्रभु से राग कोई बारिश का नाम नहीं, जो बरसे और थम जाए प्रभु से राग सूरज भी नहीं जो चमके और डूब जाए बल्कि प्रभु से राग हर श्वास पर है जो चले तो जिदंगी चले और रूके तो मौत बन जाए आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏 picture taken from google

एक नजर अंधविश्वास व मन्नत पर # जिंदगी की किताब (पन्ना # 347)

जब हम भगवान या देवी देवता से कोई मन्नत मॉगते है व पूरी होने पर किसी वस्तु का चढ़ावा या प्रसाद या दर्शन ….जो भी बोलते है ओर किसी वजह से पूरा कर ना पाते है या देरी हो जाती है ,ऐसी स्थिती मे यदि घर मे कोई बड़ी परेशानी या विघ्न आ जाता है…

Quote # 118,119,120

आईना आईना का क्या काम है ? आईना हमे क्या दिखाता है ? ऑंखो से हम सब चीज देख सकते है पर बिना आईना के हम अपनी ऑंखें भी नही देख सकते । ज्ञान भी एक आईना है , ऐसा आईना जो हमे अपने भीतर तक ले जाता है , बाहर की और नही ।…

# शीतला सप्तमी / शीतला अष्टमी # जिंदगी की किताब (पन्ना # 331)

राजस्थान और हरियाणा में शीतला सप्तमी / शीतलाष्टमी का त्यौहार मनाया जाता है । इस त्यौहार मे ठंडा खाया जाता है । खाने के एक दिन पहले काफी व्यंजन बनाये जाते है , दूसरे दिन बिना गर्म किये यानि ठंडा खाया जाता । इस अवसर पर शीतलामाता की पूजा की जाती है और पहले दिन…

Quote # 105

किस्मत वाला हूँ प्रभु जो तेरे स्नेह मे पल रहा हूँ दामन मे खुशियॉ भरकर , फूलो सा खिल रहा हूँ क्या हुऑ अगर तुम्हारे दर पर ना आ सका पर मन की ऑंखो से दीदार तो कर सकता हूँ दामन ना छूटे कभी तेरा, ऐसी प्रार्थना के साथ वंदन करता हूँ । आपकी आभारी…

ईश्वर से याचना क्यों,क्या भरोसा नही ?# जिंदगी की किताब (पन्ना # 328)

ईश्वर से याचना क्यों , क्या भरोसा नही ? कहने को तो हम ईश्वर को याद करने के लिये मंदिर मे जाते है ,जप , तप , पूजा पाठ आदि क्रियाये करते है जो कही से गलत भी नही है लेकिन उस समय हमारा ध्यान रहता है कि हे प्रभु मुझे अच्छे अंकों से परीक्षा…

Quote # 99

hey iswar !! tum subah ki pehli aaradhana ho to raatri ki antim prathna ho jivan ka majbut tantra ho to jindgi ka beej mantra ho kya nahi ho ? bhakti,prem,sadhana sabhi kuch to ho tum . हे ईश्वर !! तुम सुबह की पहली आराधना हो तो रात्रि की अंतिम प्रार्थना हो ज़ीवन का मजबूत…