जिन्दगी क्या है # जिंदगी की किताब (पन्ना # 394)

जिंदगी क्या है ? कवियत्री मुक्ता सिंह जी की कविता दिल को छू गई । उन्होने बहुत ही खूबसूरती से कुछ पंक्तियाँ मे जिंदगी क्या है , बख़ूबी दर्शाया है ….. कभी-कभी मन में उठता है ये सवाल, जिंदगी क्या है ? क्या ये ईश्वर का दिया अनमोल तोहफा है, या है उलझनों से भरा…

Quote #

कभी नमक सी जिंदगी कभी नीम सी जिन्दगी मै ढूँढता रहा जिन्दगी भर शहद सी जिन्दगी ना शौक़ बडा दिखने का ना तमन्ना भगवान बनने की बस एक आरजू जन्म सफल हो कोशिश इंसानियत रखने की आपकीआभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote #

आसान नहीं है बेटी का बाप होना गमो को छुपा कर भी उसे मुस्कुराना पडता है पूरी जिंदगी जिस कली को सीचा हो पेड़ बनाकर किसी और को थमाना होता है सच में पिता महान होता है नमन 🙏🙏 सभी पिताओं को, जिनके घरों में लक्ष्मी(बेटी) हैं। आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

नारी # जिंदगी की किताब (पन्ना # 393)

❤️ नारी को जेवर, कपडे, धन दौलत नही बल्कि सहानुभूति , सम्मान,बिना कहे समझने वाला हमसफ़र का प्यार चाहिये ❤️ मित्र की तरह बतियाने वाला ,अकेलापन दूर करने वाला व महत्व देने वाला सच्चा साथी चाहिये ❤️ तन , मन से थकहार कर बैठे तब तारीफ के साथ दो मीठे बोल बोलने वाला एक प्यारा…

Quote #

प्रेम एक परम सौन्दर्यपूर्ण अनुभूति है, बस इसका होना ही पर्याप्त है। प्रेम जब जीवन में प्रवेश करता है, तब सारी दिशायें मुस्कराहट से भर उठती हैं। मुझे शतरंज पसंद है क्योकि उसकी एक ख़ासियत है चाल कोई भी चले पर अपने अपनो को नही मारते आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote #

छोटी-छोटी खुशियों के क्षण निकल जाते हैं रोज़ जहाँ, फिर सुख की नित्य प्रतीक्षा का रह जाता कोई अर्थ नहीं कभी न थमता वक्त का पहिया, आज है रोना तो कल है हँसना, हर सुबह है अपने में बहुत खास, क्योंकि अंधेरे के बाद ही है सूर्य का प्रकाश, भव्य करो इस सुबह का आरंभ…

Quote #

कभी भी अपने आप को बूढ़ा , अपाहिज,मुर्दा दिल मत बनने दो हमेशा ऊर्जावान रहो जिन्दगी ज़िन्दादिली का नाम है हमेशा आगे बढ़ने मे विश्वास करे व साथ मे जीत पर भरोसा कमज़ोर होती जिन्दगी के कमजोर होते जज्बे व जज़्बात को बदलना होगा व उसमे दम ख़म भरना होगा नारी रोती है तब तक…

Quote #

सम्बन्ध कोई भी हों लेकिन यदि दुःख में साथ न दें अपना फिर सुख में उन सम्बन्धों का कोई अर्थ नहीं रह जाता आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote #

जवाब तो हर बात का दिया जा सकता है लेकिन जो रिश्ते की अहमियत नही समझ पाये वो शब्दो को क्या समझेंगे आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote #

उम्र के उस पड़ाव पर भी तुम मुझे यूँ ही प्रेम करना जब झुर्रियों से चेहरा घिरा होगा और तन खूबसूरत नहीं, बुढ़ापे की मार से ढला होगा आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote #

ज़िंदगी से जो लम्हा मिले उसे चुरा लो , प्यार से सजा लो । ज़िंदगी बस यूँ ही गुजर जाएगी कभी खुद हँसो तो कभी रोते हुए को हँसा लो आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote # 276

मायका मतलब मॉ बाप भाई बहन के साथ पुराने दिनों को तरोताजा करने की वो जगह जिसकी खुशी कीमत से नही ऑकी जाती है बल्कि अहसासों से महसूस की जाती है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏