करो अन्न देवता का आदर !! पेट की भूख क्या होती हैं ? # जिंदगी की किताब (पन्ना # 317)

करो अन्न देवता का आदर …..पेट की भूख क्या होती हैं ? भूख क्या होती है ? वह किसी भी भूखे व्यक्ति के पास जाकर पूछो ।भूखा पेट इंसान को क्या क्या करा सकता है ऐसे कई अनुभव मैने अपनी जिंदगी मे देखे हैं । भूख से कई दृष्टांत याद आते है । पहला दृष्टांत…

ध्यान के फायदे # जिंदगी की किताब (पन्ना # 316)

मन की शांति सबसे बड़ी दौलत है । ध्यान से हमारी आध्यात्मिक उन्नति तो होती ही है ,साथ मे यह हर दिशा मे प्रगति करने मे सहायता करता है व साथ मे शांति व सुकून भी देता है ।ख़ुद का मन शांत होने से घर मे ,समाज मे भी शांति व आनन्दमय का वातावरण स्थापित…

भोजन करने से पूर्व याद रखना जिंदगी की किताब (पन्ना # 308)

भोजन करने से पूर्व याद रखना …… प्रभु का नाम लेकर खाना, दीन दुखी को देकर खाना । कड़ी भूख लगने पर खाना , भोजन खूब चबा चबाकर खाना मन शांत रखकर खाना , सही समय पर खाना । जितना पचे उतना ही खाना,पच न सके वह कभी ना खाना । लेटे लेटे कभी ना…

स्वावलम्बन independency) , परावलम्बन # जिंदगी की किताब (पन्ना # 406)

क्या अच्छा है स्वावलम्बन होना या (independency) , परावलम्बन होना ? हर मनुष्य मे किसी भी कार्य को करने की अगाध क्षमता व शक्ति होती है । अपनी पसंद या नापसंद कार्यो के अनुसार उसकी हर क्षेत्र मे अलग अलग क्षमता होती है लेकिन होती जरूर है। बस जरूरत है अपने ऊपर भरोसा रखने की…

प्रार्थना का महत्व # जिंदगी की किताब (पन्ना # 402)

प्रार्थना का महत्व …… ईश्वर की प्रार्थना मे अपूर्व शक्ति है यदि इस पर विश्वास व श्रद्धा रखी जाये तो अपूर्व वस्तु की प्राप्ति होती है ।जैसे कि कल्पवृक्ष मे कोई वस्तु नज़र नही आती लेकिन उसके नीचे बैठकर जिस वस्तु की कल्पना की जाती है वह मिल जाती है ।ठीक उसी प्रकार परमात्मा की…

आत्मशक्ति # जिंदगी की किताब (पन्ना # 392)

आत्म शक्ति …. यह शरीर आत्मा के सहारे ही टिका है ।शरीर मे जो कुछ भी होता है वह वह सब कुछ आत्मा की शक्ति के बदौलत होता है । ये सब कुछ चर्म चक्षुओ से नही बल्कि अपने भीतर गहराई से उतरने पर महसूस होगा । आत्मा तो अनंत शक्ति वाला है पर इस…

चोरी # जिंदगी की किताब (पन्ना # 389)

चोरी ……जी हॉ चोरी का मतलब दूसरों के हको को छीनना , जिस पर स्वयं का वास्तविक रीति से अधिकार ही नही है ।उस पर मालिक की बिना इजाजत से अधिकार करने , उसे अपने काम मे लेने , और उसे लाभ उठाने को चोरी कहते है । आज के युग मे पैसो की खातिर…

स्वास्तिक चिन्ह # जिंदगी की किताब (पन्ना # 387)

विश्व भर मे स्वास्तिक चिन्ह विभिन्न धर्म व मान्यताओं मे सौभाग्यशाली , शुभ , मंगलकारी व कल्याण करने वाला माना जाता है । यह विभिन्न बाधाओ को दूर करता है। हर रोज इस चिन्ह का कम से कम एक बार जरूर दर्शन करना चाहिये । अलग अलग धर्म के अनुसार अलग अलग मान्यताये होती है…

बाल विवाह # जिंदगी की किताब (पन्ना # 381)

picture taken from goggle हालाँकि बाल विवाह कानूनी अपराध है पर गॉवो मे आज भी बाल विवाह की प्रथा है । जिसमें नन्हें बच्चों को पढ़ने , खेलने कूदने की उम्र मे विवाह की डोर से बॉध दिया जाता है । बाल विवाह करना अशक्ति का स्वागत करना है ।शादी जैसे मंगल कार्य के लिये…

लीजिये मारवाड़ की फीणी का ज़ायक़ा # जिंदगी की किताब (पन्ना # 370)

मारवाड़ की शाही फीणी …. picture taken from google राजस्थान में सर्दियां आते ही एक तरह की मिठाई फीणी बनने लगती है । सर्दी बढ़ने के साथ फीणी की मांग बढ़ जाती है। लोग सुबह के नाश्ते में दूध-फीणी का आनंद लेते है ।शादियो मे बारातियो को भी खिलाया जाता है । राजस्थान के सरदारशहर…

मातृभूमि की महत्त्वता # जिंदगी की किताब (पन्ना # 367)

मातृभूमि की महत्त्वता …… अमेरिकन डॉक्टर थॉर एक आध्यात्मिक विद्वान थे । एक बार वे अपने शिष्यों के साथ जंगल मे गये ।वहॉ उसके शिष्यों ने थॉर से प्रश्न पूछा कि स्वर्ग की भूमि अच्छी है या यहॉ की भूमि ? थॉर ने जवाब दिया – जो भूमि तुम्हारे बोझ को सहन कर रही है…

अभिनेता शशिकपूर जी को भावपूर्ण श्रद्धांजलि 🙏🙏

वक़्त ने क्याँ किया ,हसीं सितम !! शशीकपूर हीरोइनों के साथ ये चित्र कही से लिया है बाँलीवुड के महान अभिनेता और भारत के पहले इंटरनेशनल अभिनेता शशि कपूरजी का आज दिनांक 4/12/17 को मुंबई मे शाम को कोकिलाबेन अस्पताल में 5:30 बजे निधन हुया हो गया । वे लम्बे समय से बीमार चल रहे…