रिश्ते # जिंदगी की किताब (पन्ना # 375)

🌸रिश्ते टूटने का एक कारण दिखावा व competition भी है जिससे रिश्तो की स्वाभाविकता खत्म हो जाती है 🌸रिश्ते टूटने का सबसे बडा कारण आपसी अनबन, झूठा अहंकार है जिसकी क्रोधाग्नि मे आपसी रिश्ते भस्मीभूत हो जाते है 🌸रिश्तो से ज्यादा उम्मीदें व नासमझी व बातचीत बंद कर देने से दूरियाँ इतनी बढ़ जाती है…

Quote 257

हमेशा मुस्कुराये मुस्कुराना रामबाण औषधि है एक सदाबहार फूल है जिसका इलाज हम स्वयं कर रहे होते है और इसका कोई साइड इफेक्ट भी नही है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏 picture taken from google

छोटे खर्च मे बडी खुशी # जिंदगी की किताब (पन्ना # 373)

छुट्टी के दिन मै बच्चो के साथ beach पर गई । बच्चे खेलने लगे । थोडी देर से मैने देखा कि एक बेलून वाला बहुत ही फटेहाल हालत मे मुरझाया चेहरा लिये बेलून बेचने के लिये ग्राहक के पास इधर से उधर दौड़ लगा रहा था पर कोई उसे आगे चल कहकर भगा देता तो…

Quotes # 215,216,217,218

आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quotes # 205,206,207,208,209,210,211,212,213,214

किसीभीलड़कीकोवहचाहेविवाहितहोयाअविवाहितछेड़नापापहै …. आजकलआधुनिकजमानेमेबिंदीवसिंदूरलगानेकीपरंपरागुलहोतीजारहीहैजोविवाहितहोनेकोभीदर्शातीहै …..इसपोस्टकाआशयइसपरंपराकोजीवितरखनाहै आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏 all picture taken from google

Quotes # 149,150,151

कर्म अच्छे है तो किस्मत हमारी दासी है नीयत हमारी साफ है तो घर मे मथुरा काशी है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏 बहू लाने की तरह बेटी के जन्म पर भी खुशी के नगाड़े बजाओ क्योंकि बेटी ना होगी तो बहू कहॉ से लाओगे आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏 मिठास…

Quote # 142

मन ही मन मे ना तो किसी के प्रति गलत धारणा बनाये ,ना ही सुनी सुनाई बातों पर यक़ीन करे क्योंकि ग़लतफ़हमियों की दीवारें कभी कभी इतनी मजबूत होजाती है कि अच्छे से अच्छे रिश्तो को हिला देती है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote # 154,155, 156)

इस दुनिया मे मेरे भी बहुत थे अपने लेकिन सच बेलने के नशे ने हमे लावारिस बना दिया is duniya me merey bhi bahut they apane lekin sach bolnay ke nashe ne hamey lawaris bana diya राहत भी अपनो से मिलती है , चाहत भी अपनो से मिलती है , अपनो से कभी नही रूठना…

Quote # 115

chahey mainay aaj naukari,vyapaar me kitane hi bada kad pa liya hai par asli khushi ka maja to choote kad me rahakar paya hai चाहे मैंने आज नौकरी ,व्यापार मे कितनी ही बड़ा कद पा लिया है पर असली खुशी का मज़ा तो छोटे क़द मे रहकर पाया है । आपकी आभारी विमला विल्सन जय…

खुशियॉ का क्यूँ करे इंतज़ार ,रखे हमेशा बरकरार # जिंदगी की किताब (पन्ना # 324)

खुशियॉ का क्यूँ करे इंतज़ार ,रखे हमेशा बरकरार… एक आदमी हर समय यह सोचकर बहुत परेशान रहता था कि उसकी जिन्दगी मे कोई खुशी क्यों नही आती । एक दिन वह उदास होकर भगवान से बातें करने लगा कि हे प्रभु मुझे बताओ मेरी जिन्दगी मे खुशियॉ क्यों नही है ? मैंने ऐसा क्या गुनाह…