Quote #

क्षमा भाव निज मन मे रखकर, जो जीवनपथ पर चलता है, उसके शुभकर्मों का सूरज, कभी नहीं जग मे ढ़लता है जो अंधकार मे भटके हुओं को, देता निज हिस्से से उजाला चाहे कहीं भी रहे ,उसको मिल जाती है भगवन तुम्हारी छत्र छाया आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏 Advertisements

Quote #

सब फ़सलो को पानी एक समान मिलता है फिर भी नीम कड़वा बेर मीठा और नीबू खट्टा होता है इसमे दोष पानी का नहीं बीज का है इसी तरह प्रभु के लिये सभी समान है पर दोष हमारे कर्मों का है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote #

बहुत फर्क है प्यार मे इंसान से प्यार हमारी कमजोरी बन जाती है और परमात्मा से प्यार हमारी ताकत बन जाती है इंसान के अंदर जो छलके वह स्वाभिमान है और जो बाहर छलके वह अभिमान है आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote #

ईश्वर न दंड देते है,न माफ करते है कर्मफल का तराजू इन्साफ करता है सुख दुःख का बटन हमारे हाथ में है जो हम खुद ही On करते है और खुद ही Off करते है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote #

औरत को खुदा ने तीसरी ऑंख भी दी है जिससे वो मर्द के उस अंदाज को पहचानती है जिस से वो उसे देखता है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏 picture taken from google

Quote #

दिल में ज्योति जगाये रखना सुंदर सपने सजाए रखना आस के दीप जलाए रखना चाहे धर्म ,कर्म मे हो अंतर सदा मेल मिलाप बनाए रखना बड़ी शिद्दत से संजोए हैं तिनके अपना घरौंदा बसाए रखना आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote #

कभी भी इस बात की गिनती ना करना कि कितने शास्त्र पढ़े , कितने तीर्थ गये , कितने मंदिर गये बल्कि ये सोचना कि तीर्थों की यात्रा मे कितने गहरे उतरे , अपने भीतर बैठे परमात्मा को कितना पहचाना । जीवन मे कितनी प्रसन्नता आई । आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏