ईमानदारी # अनुभव # जिंदगी की किताब (पन्ना # 331)

हम पति पत्नी बाजार मे शॉपिंग के लिये गये । वहॉ पर एक कृत्रिम पौधों की दुकान थी । बहुत ही सुंदर पौधे रखे थे व साथ मे तरह तरह फूलो की फुलवारी भी शोभा बढा रही थी । हमारा भी मन पौधों को देखकर ललचा गया और कुछ पौधे खरीद लिये । पैसे चुकता…