समझने वाली बात # जागृति # प्रेरणादायी # Quotes #

इंसान नहीं बोलते,उसके दिन बोलते हैं
जब दिन नहीं बोलते तो ,इंसान लाख बोले
उसकी कोई नहीं सुनता
जितना गहरा रिश्ता
उतनी ज्यादा उम्मीद
जितनी ज्यादा उम्मीद
उतनी गहरी चोट

आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता
जय सच्चिदानंद 🙏🙏