अच्छे विचार # जागृति # Quotes #

सोच अपनी अपनी

चिंता यमराज की बेटी है और ग़ुस्सा उसका बेटा यमराज से बचना है तो इन दोनों से बचे रहिये

हमेशा ख़ुश रहे ,लाफिंग बुद्धा रखने की जगह स्वयं को ही लॉफिंग बुद्धा बना लीजिये


जो दिल मे है

उसे कहने की हिम्मत रखो

ओर जो दूसरो के दिल मे है ,

उसे समझने की समझ रखो

रिश्ते कभी नहीँ टूटेंगे


ज़िंदगी की आधी शिकायतें ऐसे ही ठीक हो जाए, अगर लोग एक दूसरे के बारे में बोलने की जगह एक दूसरे से बोलना सीख जाएं,


आपकी
आभारी विमला विल्सन मेहता

जय सच्चिदानन्द 🙏🙏

Advertisements