परिवार व रिश्ते # जागृति # Quote #

रिश्तो मे कुछ ऐसा ही है

किसी को बार बार समझाकर अपना वक्त व एनर्जी खर्च करने का कोई मतलब नही

जिसको समझना होगा ,उसके लिये आपका एक बार कहा हुआ भी काफी होगा


आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता

जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Advertisements