सुविचार # प्रेरणादायी बात #Quote #

इच्छा इक पूरी करी

हुई प्रकट अनेक

पूरी करता ज्यों गया

प्रकटी और अनेक

सारांश

संतोष जैसा धन नही


आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता

जय सच्चिदानंद 🙏🙏

image credit google

Advertisements