वाह क्या बात है # Quote

रंग से गोरी न थी ☺️

लेकिन सुंदर थी 😊

बहुत ऊँची न थी ☺️

लेकिन मेरे लिए योग्य थी😊

प्रेम देने वाली न सही☺️

मेरे कदमों से क़दम मिलाती थी😊

मंदिर ,मस्जिद आने से इंकार करती थी ☺️

लेकिन बाहर मेरा इंतज़ार करती थी 😊

कहीं भी जाओ मेरे लिए रुक जाती थी

वो 😊😍🤗

अरे ज्यादा इमोशनल होने की जरूरत नही

जैसी भी थी

मेरी चप्पल थी

पता नहीं कौन उठाकर ले गया ☹️😡


आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता

जय सच्चिदानंद 🙏🙏