जिन्दगी # ऑसू # सुखी जीवन # Quotes #

टूटी कलम और औरों से जलन

खुद का भाग्य लिखने नहीं देती,

काम का आलस और पैसों का लालच

हमें महान बनने नहीं देता

पैर की मोच और छोटी सोच

हमें आगे बढ़ने नहीं देती

अपना मजहब ऊँचा और गैरों का नीचा

ये सोच हमें इन्सान बनने नहीं देती


ऑंखें तालाब नही फिर भी भर आती है

किस्मत सखी नही फिर भी रूठ जाती है

होठ कपड़ा नही फिर भी सिल जाता है

दुश्मनी बीज नही फिर भी बोई जाती है

बुद्धि लोहा नही फिर भी जंग लग जाता है

आत्मसम्मान शरीर नही फिर भी घायल हो जाता है

और इंसान मौसम नही फिर भी बदल जाता है


सुखी जीवन के छः मंत्र

अगर पूजा कर रहे हैं तो – विश्वास करना सीखो

बोलने से पहले – सुनना सीखो

अगर ख़र्च करना है तो – कमाना सीखो

अगर लिखना है तो – सोचना सीखो

हार मानने से पहले – फिर से कोशिश करना सीखो

मरने से पहले – खुलकर जीना सीखो


प्रेम और परोपकार सिखाता है बॉटकर खाना

भूख और बेइमानी सिखाती है लूटकर खाना

लोभ और फिजूलखर्ची सिखाती है बेईमान बनना संस्कार और स्वाभिमान सिखाता है कमाकर खाना


हर्ष के आँसू ह्रदय को आनंदित करते हैं

शोक के आँसू मन को दुखी करते हैं

पश्चाताप के आँसू ह्रदय को शुद्ध करते हैं

पर करुणा के आँसू हमें सच्चा इंसान बनाते है


आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता

जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Advertisements