परिवार व रिश्ते # Quotes

बिना कहे जो सब कुछ कह जाते हैं

बिना कसूर के जो सब कुछ सह जाते हैं

दूर रह कर भी अपना फर्ज निभाते हैं

वही रिश्ते सच में अपने कहलाते हैं ।


दुनिया में दो पौधे ऐसे हैं

जो कभी मुरझाते नहीं और

अगर जो मुरझा गए तो उसका

कोई इलाज नहीं

पहला – नि:स्वार्थ प्रेम

और दूसरा – अटूट विश्वास


आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता

जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Advertisements