जागृति #Quote #

है छोटी सी ज़िन्दगी ,तकरारें किस लिए

रहो एक दूसरे के दिलों में ,यह दीवारें किस लिए


आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता

जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Advertisements