जिन्दगी # जागृति # Quote#

जीवन में चार चीज़ें ये मत तोड़िये विश्वास ,रिश्ता ,ह्रदय, और वचन क्योंकि ये जब टूटते है तो आवाज़ नहीं आती पर दर्द बहुत होता है आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏 Advertisements

आपका दिन शुभ हो# सुप्रभात ,सुविचार# Quote#

हम ना तो नास्तिक है ना आस्तिक हम तो केवल वास्तविक है जो अच्छा लगे वह ग्रहण करो जो बुरा लगे उसका त्याग करो फिर चाहे वो धर्म हो ,कर्म हो , मनुष्य हो या विचार हो आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

जीवन जीने के सूत्र # Quote #

1. जो खुशी से जीवन जीता है ,हमेशा आनंद का रस पीता है । 2. जो दूसरों को दुखी करता है , खराब कर्मों का बंधन करता है । 3. जो सकारात्मक सोच रखता है , हमेशा प्रसन्न रहता है 4. जो दूसरों को दोष देता है ,नेगेटिव सोच वाला बन जाता है 5. कोई…

जिन्दगी # जागृति # Quotes

चैन से जीने के लिए चार रोटी और दो कपड़े काफ़ी हैं पर बेचैनी से जीने के लिए बंगला, प्लॉट ,कार चाहे कितने भी हो कम हैं चार वेदो का अर्थ ना जानो तो कोई बात नहीं परंतु “समझदारी, जवाबदारी ,वफ़ादारी, और ईमानदारी “ये चार शब्दों का मर्म जानों तो भी जीवन सार्थक हो जायेगा…

शांति # आध्यात्मिक # जागृति # Quote #

हम बाहरी दुनिया से कभी भी शान्ति नही पा सकते है जब तक हम अंदर से शांत ना हो । आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

इंसान # सुविचार # Quote

जो हाथ का सच्चा और बात का पक्का, समझो वह इंसान सबसे अच्छा आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

बच्चे # माता पिता # Quote

बच्चो को दी गई शिक्षा बीजों को बोने की तरह है , जिन पर फूल खिलने पर ही परिणाम का अहसास होगा आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

जिन्दगी # ऑसू # सुखी जीवन # Quotes #

टूटी कलम और औरों से जलन खुद का भाग्य लिखने नहीं देती, काम का आलस और पैसों का लालच हमें महान बनने नहीं देता पैर की मोच और छोटी सोच हमें आगे बढ़ने नहीं देती अपना मजहब ऊँचा और गैरों का नीचा ये सोच हमें इन्सान बनने नहीं देती ऑंखें तालाब नही फिर भी भर…

ऑसू # Quote #

हर्ष के आँसू ह्रदय को आनंदित करते हैं शोक के आँसू मन को दुखी करते हैं पश्चाताप के आँसू ह्रदय को शुद्ध करते हैं पर करुणा के आँसू हमें सच्चा इंसान बनाते है आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

परिवार व रिश्ते # जिन्दगी # Quote#

ज़िन्दगी ने हर किसी से कोई न कोई कीमत वसूल की है कोई सपनो की खातिर अपनो से दूर हो गया कोई अपनो की खातिर सपनो से दूर हो गया आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏