सुख दुख # Quote #

सुख और दुख हमारे पारिवारिक सदस्य नही मेहमान है , बारी बारी से आयेंगे और कुछ दिन ठहर कर चले जायेंगे ..

अगर वो नही आयेंगे तो अनुभव कहॉ से लायेंगे ।


आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता

जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Advertisements