Quote #

मैडिटेशन का मतलब ऑखे बंद नही करना है बल्कि खोलना है

ऑंखें तो पहले से ही बंद है


ज़िंदगी की जिस डगर पर आप खड़े हैं उसमें गिला शिकवा पालने की बजाय उसका आनंद लीजिए

पॉव में जूते नहीं है तो क्या हुआ ,सोचिए मैं उनसे तो ज़्यादा सुखी हूँ जिनके पाँव ही नहीं है


आपके गलत या सही होने के बारे मे

दो शख़्स को पूरा पता है

पहला ईश्वर और

दूसरी आपकी अंतरात्मा

और हैरानी की बात यह है कि

ये दोनो ही नजर नही आते


खुश रहने का एक ही मंत्र है

ऊँ इग्नोराय: नम:


आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता

जय सच्चिदानंद 🙏🙏

picture taken from google

Advertisements