बहुत दुख होता है यह देखकर कि हमारी भारतीय संस्कृति का संग छूटता जा रहा है

दादा की जगह Grandpa हो गये

चाची अब Aunty हो गई

पिता अब Dad हो गये

भाई Bro हो गया

बहन भी sis हो गई

दादी की लोरी टाँय टॉय फिस्स हो गई

जीती जागती मॉ बच्चो के लिये ममी हो गई

रोटी अब अच्छी कैसे लगे

मैगी जो इतनी यम्मी हो गई

गाय का आशियाना शहर की सड़कों पर बचा है

विदेशी कुते का आशियाना घर मे बना रखा है


आपकी आभारी विमला विल्सन

जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Advertisements