अच्छी बाते # जागृति # Quotes #

इतने सस्ते भी नही बने कि लोग हमें नचाते रहे

इतने महंगे भी ना बनें कि लोग हमे बुलाने से हिचकिचाए

इतने नरम भी ना बने कि लोग हमें खा जाए

इतने गरम भी ना बने कि दुनिया हमें छू भी न पाये

इतना सरल भी ना बने कि लोग हमें मूर्ख बनाए

और

इतने अकडूँ भी ना बने कि आम व्यक्ति हमसे मिल भी ना पाये


आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता

जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Advertisements