Quote #

कभी न थमता वक्त का पहिया आज है रोना तो कल है हँसना हर सुबह है अपने मे बहुत खास क्योकि अंधेरे के बाद ही है सूर्य का प्रकाश भव्य करो इस सुबह का आरंभ क्या पता ये हो किसी अंत का नया आरंभ आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏 Advertisements

Quote #

गरीबी अमीरी तो सब अपने अपने कर्मों का फल है जनाब !! दिखने में वो बहुत गरीब थी भले ही दरिद्र दिखते उसके वस्त्र एवं तन पर हँसी और मन किसी राजकुमारी से कम नहीं थी आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏