बँटवारे की कहानी # जिंदगी की किताब (पन्ना # 387)

बँटवारे की कहानी …. श्री शर्मा के संयुक्त परिवार की तारीफ मोहल्ले भर मे की जाती थी । चार बेटों का भरापूरा परिवार था । सभी आपस मे प्रेम से रहते थे । एकाएक शर्माजी की असामयिक मृत्यु से पूरा परिवार हिल गया । धीरे धीरे समय का कुचक्र ऐसा चला कि भाइयों की आपस…

Quote #

वक़्त तो रेत है ,फिसलता ही जायेगा जीवन एक कारवां है ,चलता चला जायेगा जिदंगी बेहतर तब होती है. ,जब आप खुश होते है लेकिन बेहतरीन’ तब होती है ,जब आपकी वजह से लोग खुश होते है आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏 picture taken from google