Quotes # 147,148

सुकून के मामले मे वो ज़माना कितना सस्ता था

जब होंठों पर मुस्कान और कंधों पर बस्ता होता था ।

आपकी आभारी विमला विल्सन

जय सच्चिदानंद 🙏🙏

क्षणों को संभालने वाला वर्षों को संभाल सकता है और क्षणों को खोने वाला वर्षों को खो देता है ।


आपकी आभारी विमला विल्सन

जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Advertisements

2 Comments Add yours

  1. Madhusudan says:

    ना कोई गम ना कोई चिंता।खूबसूरत।

    Liked by 1 person

    1. Vimla wilson says:

      बहुत बहुत शुक्रिया

      Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s