Quote # 108

आज हमारा परिवार बहुत खुशहाल है क्योंकि

हमने अपनी सोच को बदली है

एक पराई बेटी ने हमे अपनाने के लिये अपना घर छोड़ा है , हमने नही

इसलिये उसे अपने घर की अपेक्षाओ के अनुरूप समझाने से पहले उसकी भावनाओं को समझने की कोशिश की

जितना प्यार , अपनापन, विश्वास ,उचित स्वतंत्रता अपने लिये चाही , उसकी भावनाओं को समझते हुये उसको भी देने की जरूरत समझी

आपकी आभारी विमला विल्सन

जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

w

Connecting to %s