जिन्दगी # लफ्ज # Quote

1. जिन्दगी कभी सुहानी बन जाती है , कभी दर्दानी बन जाती है , कभी रूहानी बन जाती है , अंत मे कहानी बन जाती है ! 2. जिन्दगी प्यार का गीत है , उसे हर दिल को गाना पड़ेगा , जिन्दगी गम का सागर भी है ,उसे हँस कर पार भी करना पड़ेगा !…

आधुनिकता का रंग # जिंदगी की किताब (पन्ना # 396)

आधुनिकता का रंग ….आजकल के आधुनिक जमाने मे आधुनिकता का रंग युवा पीढ़ी पर इस कदर हावी हो गया कि वह भारतीय संस्कृति को धीरे धीरे भूलता जा रहा है । और लाज शर्म व सम्मान की बात तो दूर अपने बड़े बुज़ुर्गों को समय पड़ने पर पागल या दकियानूसी कहने से नही चूकता है…

मन दिल को करे चमन # जिंदगी की किताब (पन्ना # 395)

मन को खाली करिये , प्रसन्नता से भरिये …….. दुनिया मे कोई भी चीज खाली अच्छी नही लगती ,हमेशा भरी अच्छी लगती ।खाली गिलास को अगर दूध या पानी या ज्यूस से भर दिया जाये तो ज्यादा अच्छा लगता है ,खाली टोकरी को फल या फूलो से भर दी जाये तो सुशोभित लगती है ।खाली…

आध्यात्मिक बात # Quote

The Self is not what people believe it to be, or what the intellect can grasp. It is immeasurable. Where there is no measure, there is no scale, there is nothing at all that will work here! The Self is such that It can only be Known through the Knowledge of the Self. It is…