मातृभूमि की महत्त्वता # जिंदगी की किताब (पन्ना # 367)

मातृभूमि की महत्त्वता …… अमेरिकन डॉक्टर थॉर एक आध्यात्मिक विद्वान थे । एक बार वे अपने शिष्यों के साथ जंगल मे गये ।वहॉ उसके शिष्यों ने थॉर से प्रश्न पूछा कि स्वर्ग की भूमि अच्छी है या यहॉ की भूमि ? थॉर ने जवाब दिया – जो भूमि तुम्हारे बोझ को सहन कर रही है…

प्रोत्साहन # सुविचार # Quote

विश्राम व श्रम दोनो शब्द एक दूसरे के विपरित होने पर भी आपस मे कितना तालमेल है विश्राम का आनंद लेने के लिये श्रम जरूरी है श्रम करने के लिये विश्राम जरूरी है आपकी आभारी विमला विल्सनमेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

सोचने वाली बात # जिंदगी की किताब (पन्ना # 366)

मनुष्य सामाजिक प्राणी है । चाहे वह परिवार में हो या किसी समूह के साथ हो , आपस में मतभेद तो होता रहेगा क्योंकि वह विचार व अहंकार से भरा होता है । निर्जीव बर्तन भी एक साथ होने पर आपस में खटपट करते रहते है तो मनुष्य तो सजीव प्राणी है । जिनका आपस…