Quote # 30

You yourself are your superior. You are your own protector and your own destroyer. You are whole and sole responsible for yourself. Dadabhagwan Vimla wilson Jay sat chit anand 🙏🙏

Advertisements

भीख # जिंदगी की किताब (पन्ना # 361)

भीख........< strong>< strong>भीख मॉगने वाला ही भिखारी नही है बल्कि एक तरह से हम सब भी एक भिखारी की तरह ही है । किसी को मान की भीख , किसी को लक्ष्मी की भीख , तो किसी को कीर्ति की भीख , विषयों की भीख , शिष्यो की भीख यानि की किसी न किसी प्रकार... Continue Reading →

धर्म …. जिंदगी की किताब (पन्ना # 360)

इस सृष्टि के लिये सबसे बडा वरदान है तो वह धर्म है ,जो मानवता का जलता हुआ चिराग है । लेकिन धर्म का मर्म इंसान की समझ से दूर होता जा रहा है । धर्म के नाम पर आये दिन कुछ ना कुछ बखेड़ा खड़ा हो जाता है । धर्मों की गिनती करे तो पायेंगे... Continue Reading →

लफ्ज # 46 ,47,48 # खुशियॉ

1. जेब में ख़ुशियों के लम्हे लेकर क्यूँ घूमते हो जनाब ! बाँट दो ना इन्हें ,ना गिरने का डर ,ना चोरी का डर ।Jeb mein khushiyon ke lamhein lekar kue ghumtein ho janaab, Baat do na inhein , na girne ka dar na chori ka dar. 2. ढूँढोगे तो जिन्दगी मे गम की वजह... Continue Reading →

क्रोध -जिंदगी की किताब (पन्ना # 349)

क्रोध को प्रेम मे बहावो तो इंसान बनोगे क्रोध को ध्यान मे बहावो तो महात्मा बनोगे क्रोध को करूणा मे बहावो तो महावीर बनोगे क्रोध को भक्ति मे बहाओ तो भगवान बनोगे आपकी आभारी विमलामेहता जय सच्चिदानंद 🙏🙏

सुंदर रूप का स्वरूप # जिंदगी की किताब (पन्ना # 348)

भौतिकतावादी संसार मे हम सभी बाह्य रूप से दिखने वाली सुंदरता को ही असली सुंदरता मान बैठते है । पर यह सुंदरता आध्यात्मिक दृष्टि की सुंदरता के सामने फीकी पड़ जाती है उसी सन्दर्भ मे बोला गया है कि किसी भी इंसान की सुंदरता का स्वरूप उसकी बाहरी चमक दमक देखकर ना समझो । बल्कि... Continue Reading →

Quotes # life # 27

The four things that have spoiled your life are“ I “ and “ mine “, “ You “ and “ Yours “,forget themVimla wilson Jay sat chit anand 🙏🙏

Blog at WordPress.com.

Up ↑