मन ….

Good day to all divine souls …… हमारा मन ही स्वर्ग या नर्क का द्वार है  जिसने अपने मन को सही दिशा की तरफ मोड़ा तो स्वर्ग की  और गलत दिशा की और मोडा तो नर्क की छाप पड़ जाती है  Vimla

पैतृक कार्य मे शर्मिंदगी कैसी ….

पैतृक कार्य मे शर्मिंदगी कैसी …….. आजकल के अधिकांश छात्र कॉलेज अध्ययन करके निकलते है तो वह अपने पिता के पुश्तैनी काम मे मदद करने मे अप्रतिष्ठा का अनुभव करता है लेकिन कुछ दिनो पहले इससे विपरीत उदाहरण देखने को मिला । एक दिन शाम के समय संजना बडे बाजार गई । घर का सामान…

खुद पर विश्वास रखे ….

Good day to all divine souls …….. दूसरो की छाया मे खड़े रहकर हम अपनी परछाई खो देते है । अपनी परछाई के लिये हमे खुद धूप में खड़ा होना पड़ता है

हरियाली अमावस्या की सभी को हार्दिक शुभकामनायें ……

🌴🌴🌴🌴🌴🌴🌴🌴🌴🌴🌴🌴🌴🌴🌴 आओ !! आज हरियाली अमावस्या पर संकल्प करे ,ज्यादा से ज्यादा पेड पौधो को बचाने की व नये पौधे लगाने की ….पेड पौधों की बहार है तो जिंदगी सदाबहार है .. हरियाली अमावस्या की सभी को हार्दिक शुभकामनायें !! जिंदगी मे सभी को ख़ुशहाली मिले ….विमला 🌴🌴🌴🌴🌴🌴🌴🌴🌴🌴🌴🌴🌴🌴

सोचने वाली बात ……

दो प्रकार के इंसान का जब अंत समय आता है तो वो ह्रदय मे अनेक इच्छाये और पश्चात्ताप करते हुये मरते है…. पहले प्रकार के इंसान वो होते है जो पढ़ाई तो बहुत कर लेते है  या यूँ बोल सकते है कि उनको किताबी ज्ञान तो बहुत होता है किंतु उसको आचरण मे नही ला…

ये कैसी विडम्बना है …..

ये कैसी विडम्बना है ….. हमे किसी भी इंसान के बारे मे सोच स्वयं के अनुभव के आधार पर कायम करनी चाहिये वरना लोगो का क्या ,एक ही मुलाकात मे किसी भी इंसान को अच्छा या बुरा होने का स्टेम्प लगा देते है , जबकि वास्तविकता के धरातल मे कोई भी इंसान सालों साल साथ…

मानव मानव एक समान …..

Good day to all divine souls ……. मानवता को भव्य भूमी से बोल गये भगवान  मानव मानव एक समान Manavta ko bhavya bhumi se bol gayae bhagwan  Manav manav ek saman  ….. विमला  जय सच्चिदानंद 🙏🙏

तीर्थंकर भगवान श्री सीमंधर स्वामी का परिचय ….

तीर्थंकर भगवान श्री सीमंधर स्वामी का परिचय ……. तीर्थंकर का अर्थ है पूर्ण चंद्रमा,जिन्हें आत्मा का संपूर्ण ज्ञान हो चुका है । ब्रह्मांड के मध्यलोक जिसका आकार गोल है उसमे 15 प्रकार के क्षेत्र है ।  मनुष्य के जन्म लेने व रहने लायक ये 15 क्षेत्र है ।उनके नाम इस प्रकार है — पॉच भरतक्षेत्र…

चिन्ता ……

Good day to all divine souls ……… चिन्ता …. चिंता और चिता एक समान है केवल बिंदु मात्र का अंतर है चिता तो मुर्दे को जलाती है चिन्ता ज़िन्दा को ही भस्म कर देती है । चिन्ता घुन की तरह होती है ….जैसे घुन गेहूँ को अंदर ही अंदर खोखला कर देती है वैसे ही…

खॉसी का घरेलू नुस्खा …..

खुद की बीमारी -खुद का इलाज…… खॉसी का घरेलू नुस्खा ….. 1. 10-15 तुलसी के पते और 8-10 काली मिर्च की चाय मिलाकर पीने से खॉसी,जुकाम और बुखार मे लाभ होता है 2. आँवले का चूर्ण व मिश्री को बराबर मात्रा मे लेकर सुबह सुबह ख़ाली पेट ताजे पानी के साथ सेवन करे ,पुरानी से…

बहाना….

Good day to all divine souls …..,, बहाना झूठ से भी बड़ा पाप है क्योकि बहाना सुरक्षित झूठ है जिसे माया कहते है ।  बहानेबाज़ी एक तरह से टालमटोल करने की बीमारी है