हमारी मान्यताओं का महत्व और उसका वैज्ञानिक कारण–जिंदगी की किताब (पन्ना # 213)

हमारी मान्यताओं का महत्व और उसका वैज्ञानिक कारण….

हमारे पूर्वजों ने दिन रात मेहनत करके कुछ ऐसे धार्मिक रीति रिवाज ,संस्कार व मान्यतायें बनाई है जो हमारे लिये लाभदायक है । इन सभी के पीछे कोई ना कोई वैज्ञानिक पहलू छिपा होता है ।
 ये लेख छोटा सा प्रयास है जिसमे कुछ संस्कारों ,मान्यताओं की उपयोगिता को वैज्ञानिक दृष्टि से बताने की कोशिश की गई है ….

1. काजल लगाना .. 

देशी घी का दीया जलाकर उसकी कालिख को इकट्ठा करके उसमें कुछ बूँदे घी व कपूर डालकर बनाया गया काजल को चॉदी की डिब्बी मे रखने के बाद बच्चो को लगाने से ऑंखें का बड़ा लगना ही नही है बल्कि ऑखो को ठंडक मिलने के साथ गंदगी साफ़ करती है व रोशनी बढ़ाती है ।

वैज्ञानिक कारण …….

देशी घी से जो कार्बन बनता है वह प्राय: लाभकारी होता है । कपूर व चॉदी के कारण ऑखो को ठंडक मिलती है व आँखों की गंदगी निकलने के साथ ऑंखें स्वच्छ होकर रोशनी बढ़ाती है ।

2. नजरिया ….

यह काले व सफेद छोटी छोटी मोतियों को काले धागे मे पिरोकर बनाया जाता है जिसे जन्मते ही एक -दो साल तक बच्चो की कलाई पर बाँधा जाता है । सभी लोग बुरी नजर ना लगे इसी हिसाब से बच्चो को पहनाते है लेकिन इसके पीछे वैज्ञानिक कारण छुपा है ।

वैज्ञानिक कारण ….

इसको बाँधने से बच्चो की कलाई की सभी नसे दबती है व हाथ पॉव की मांसपेशियॉ मजबूत होती है ।

3. नजर का टीका ….

अधिकतर माताये अपने बच्चो के माथे पर काला टीका लगाती है ताकि किसी की नजर ना लगे ।

वैज्ञानिक कारण …….

इसके पीछे वैज्ञानिक मत यह है कि काले रंग मे नकारात्मक भावो को अवशोषित करने की ताकत रहती है ।

4. तगड़ी ……

ये काले धागे या चाँदी की होती है जो बच्चो के कमर पर बाँधी जाती है ।

वैज्ञानिक कारण ……

इसके साथ जुड़ा वैज्ञानिक कारण यह है कि इसे पहनने से कमर की नसे दबती है जो कि भविष्य मे बालक को हर्निया जैसे रोग से बचाती है ।

5. हसली ……

ये चॉदी की बनी होती है और बच्चो के गले मे पहनाई जाती है 

वैज्ञानिक कारण ……..

इसके पहनने से बच्चो के कंठ ,तालु संतुलित अवस्था मे रहते है व भोजन को निगलने मे सहायक होते है ।

6. सूरज ,चॉद ,हाय लिखा होना ……

काले धागे मे डालकर ये ताबीज पहनाया जाता है जिस पर सूरज चॉद बना होता है और हाय लिखा होता है । ये चॉदी के बने होते है जो कि बच्चो के गले मे पहनाया जाता है व बच्चे को रक्षा करते है ।

वैज्ञानिक कारण ……..

इस प्रकार के ताबीज पहनाने के पीछे वैज्ञानिक कारण यह है कि ताबीज पर बने सूरज चॉद बच्चे की धार्मिक आस्था को बलवान करने मे सहायता करती है तथा हाय नेगेटिव चीजो से रक्षा करती है । चॉदी का बना होने से बच्चे की छाती को शीतलता प्रदान करती है ।

लिखने मे गलती हो तो क्षमायाचना 🙏🙏

जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Advertisements

2 Comments Add yours

  1. Madhusudan says:

    bahut khub likha hai

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

w

Connecting to %s