आवश्यकताएँ और इच्छाएँ …

Good day to all divine souls …… जब हमारे जीवन मे व्यक्तिगत आवश्यकताएँ और इच्छाएँ नही रहती है तो  एक अद्भुत शक्ति का उदय होता है  जिससे हम दूसरो को आशीर्वाद दे सकते है  picture taken from google  Advertisements

हम लोग मन्दिर क्यों जाते हैं ?

​ हम लोग मन्दिर क्यों जाते हैं ? चाहे मनुष्य कोई भी धर्म या जाति का हो ,सभी में धार्मिक जगहो का बहुत महत्व बहुत माना जाता है। हम किसी भी धार्मिक जगह पर जाते हैं तो अपने अंदर एक आंतरिक सुख व शांति का अनुभव करते हैं । एक अलग सा अहसास होता है…

मर्यादा…

Good day to all divine souls ……. मर्यादा रखना जिंदगी का बंधन नही है बल्कि व्यवस्थित रूप से जीने की कला है । मर्यादा चाहे गृहस्थ की हो या संत की,मालिक की या नौकर की,अधिकारी की हो या कर्मचारी की , नेता की हो या जनता की ,डॉक्टर की हो या मरीज की ,चाहे किसी…