गुस्से की दवा …..

एक स्त्री बहुत ग़ुस्सैल थी । बात बात पर ग़ुस्सा । आये दिन उसकी घर के किसी भी सदस्य से लड़ाई होती रहती।घर मे सर्वत्र अशांति । सभी परेशान हो गये ।वह महिला भी अपने ग़ुस्सैल स्वभाव की वजह से दुखी थी ।उनके घर के पास एक चिकित्सक पड़ोसी रहता था जो किसी भी प्रकार…

सुंदर विचार …..

Good day to all divine souls… ईश्वर के न्याय की चक्की पर भरोसा रखना ,जो चलती जरूर है लेकिन नजर नही आती हैं   ध्यान देना गरीबो के घर मे ,जहॉ दुपट्टा जरूर फटा होता है लेकिन फिर भी सर ढका होता है जानना या समझना है तो ईश्वर को जानो क्योकि जिन्दंगी को समझना बहुत…