सोच किसान के बारे मे …..

सोच किसान के बारे मे ….. तन झुलस जाता है  सिर गर्मा जाता है हाथ खुरदरे हो जाते है  तलवों मे फफोले पड जाते है  कपड़े चिथड़े हो जाते है  तब जाकर फसल लहलहाती है ,जनाब !! और लोग बोलते है कि  किसान के जिस्म से  पसीने की बू आती है  मैं तो यह कहता…

जीओ जी भर के ….

Good day to all divine souls… किरायेदार की तरह मिली है ये छोटी सी जिंदगी रजिस्ट्ररी के चक्कर मे ना पड़े  स्वस्थ रहो ,मस्त रहो  हँसते रहो और हँसाते रहो HAVING A SHARP MEMORY IS A GOOD QUALITY OF THE BRAIN. BUT THE ABILITY TO FORGET THE UNWANTED THINGS IS A FAR BETTER QUALITY OF…