मन के भाव ….

मनुष्य जिंदगी बड़ी दुर्लभ हैं और हमें अपना पूरा जीवन किये गये मन के भावो के अनुरूप बिताना पड़ता है ।भाव के आधार से हमारे कर्मो का बंधन होता हैं वही कर्म का भुगतान हमें जिंदगी भर करना पड़ता हैं । प्रत्येक इंसान को हमेशा दिल से हर समय एक ही भाव करना चाहिये कि…

इंतजार न करो प्रेम देने या लेने का….

एक लडकी जिसका नाम रूपा था ,वह बग़ीचे मे मायूस सी बैठी हुई थी। पास ही एक पेड पर तोता बैठा था जो उसका अच्छा दोस्त भी था । दोनो एक दूसरे की भाषा समझते थे। मिलने पर ढेर सारी सुख दुख की बाते करते । उसे उदास देखकर तोता बोला ,क्या हुआ बहना ?…

अच्छे विचार ….

Good day to all divine souls …….. किसी ने क्या खूब कहा है …. हे खुदा के बंदे ,जरा सँभल कर उतना ही बोलो ज़ुबान से , जितना फिर सुन सको कान से …. .Do you trust me when my answer is wait ? — god