अनुभव-भावनाओं के अहसास का….

ऐसा कहा जाता है कि “हमेशा अच्छी वाणी बोलिये “क्योकि पूरे दिन मे बोली गई कोई भी वाणी सच हो सकती है । अच्छी भावनायें रखने पर वाणी सहज रूप से अच्छी निकलेगी ।  यह क़ुदरत का नियम है कि जब भी हम कोई तीव्र भावना करते है तो प्रकृति संजोग मिलने पर उसे पूरा…

मन का आईना …. 

देखा जाये तो चेहरा पूरे शरीर का कैमरा होता है। इस पर मन के भाव प्रकट हो जाते हैं।और उस वजह से हमारे चेहरे पर या तो मलिनता आती हैं या तेज आता है।इस बात पर एक कथा याद आती हैं जो इस प्रकार हैं …मन का आईना ….. एक नगर में राजा था जिसके…