अच्छे विचार……

Good day to all divine souls... अगर हमारी शरीर की लम्बाई कम है तो ताड़ासन करके भी मन मुताबिक़ शरीर का कद ज्यादा ऊँचा नही बढ़ा सकते लेकिन अगर हम अपनी सोच को ऊँचा उठाना चाहे तो बिना आसन के हिमालय से भी ऊपर उठा सकते है ।  फिर देखिये बड़ी सोच का बड़ा जादू !! जिंदगी मे कितना असर... Continue Reading →

Advertisements

जिंदगी क्या है ?….

एक मित्र के यहॉ उसके दादाजी से मुलाक़ात हुई ।मैंने उनसे काफी बाते की । बातो बातो मे दादाजी से पूछा आखिर ये जिंदगी है क्या ? इसको जीने के लिये कोई सलाह दीजिये । उन्होंने मुझसे सवाल किया कि कभी तेल की कड़ाही साफ़ की है ? उनके प्रश्न पर आश्चर्य करते हुये बोली... Continue Reading →

निस्वार्थता …….

Good day to all divine souls.... मदद कीजिये ,फ़ायदे के बग़ैर मिल लीजिये ,मतलब के बग़ैर जीना सीखिए, दिखावे के बग़ैर मुस्कुराना सीखिए, सेल्फी के बग़ैर क्षमा कीजिये ,माफी के बगैर दान दीजिये ,नाम के बगैर धर्म कीजिये ,चाहत के बगैर रिश्ता निभाइये ,स्वार्थ के बगैर प्रशंसा कीजिये ,मस्के के बगैर इज्जत दीजिये,अपमान के बगैर ... Continue Reading →

कर्म……

Good day to all divine souls... कौन कहता है कि ख़ाली हाथ आये थे और खाली हाथ जायेंगे ।  हम सब पूर्व जन्म के कर्म लेकर आये थे और इस जन्म के कर्म लेकर साथ जायेंगे  जैसे कि इन पंक्तियाँ से विदित होता है जिसमें कर्मो के हिसाब से किये गये सवाल का बहुत ही लाजवाब... Continue Reading →

अनुभव की कक्षा .... जिंदगी की अनुभव कक्षा मे  हर रोज नया अध्याय जुड़ता है !! एक नया अहसास दिलाता है  दिव्य क्षमताओं का परिचय करवाता है !! जीना इतना कठिन नही पर  इतना आसान भी नही होता हैं !! पहचान बनाना मुश्किल नही पर  इतना सरल भी नही होता है !! इंसान होने के... Continue Reading →

जीवन का कटु सत्य….

Good day to all divine souls..... अगर डरना है तो हमे कर्म से डरना चाहिये क्योकि कर्म की थप्पड़ इतनी भारी और भयंकर होती है कि हमारा संचित पुण्य कब जीरो बेलेन्स हो जाए पता भी नहीं चलता है । पुण्य खत्म होने बाद समर्थ सम्राट या बड़े से बड़े नामी व्यक्ति को भी भीख... Continue Reading →

सुंदर सोच …..

Good day to all divine souls... सुन्दर सोच न केवल अपने रिश्ते नाते ,संबंधो तथा आभामंडल को सुंदर बनाती है बल्कि प्रभावी भी बनाती है   सुंदर सोच परमपिता परमेश्वर की सबसे बड़ी पूजा है  अच्छी सोच स्वयं ही एक सुंदर मंदिर है जहॉ से सत्यम शिवम सुंदरम का मन लुभावन संगीत अंतर्मन से फूटता रहता... Continue Reading →

चंदा रे ……

खुले आसमान मे खिले चंदा को देखकर कहा चॉद तुम वाकई लाजवाब हो !! ईद पर भी नजर आते हो !! तो करवाचौथ को भी नही भूले !! इंसानों की तरह धर्म मे  कम से कम तुम तो नही बँधे !! और इंसानों की तरह  भगवान का नही किया बँटवारा !! शीतल चॉदनी की फुहार... Continue Reading →

Blog at WordPress.com.

Up ↑